Backlink क्या है -Backlink के प्रकार, फायदे, महत्वपूर्ण 2023 | Quality Backlink कैसे बनाए

Backlink क्या है : अगर आप लोग ब्लॉगिंग की दुनिया में है तो आप लोगो को यह जानकारी होगी ही कि हम लोगो के लिए backlink प्राप्त करना कितना अहम है। बैकलिंक हमारे साइट के लिए कितना जरूरी है? अगर आप इन बैकलिंक से जुड़े चीजों के बारे में नही जानते है (Backlink क्या है -Backlink के प्रकार, फायदे, महत्वपूर्ण)

तो यह आर्टिकल आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है क्योंकि इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको यह बताने का प्रयास करेंगे कि Backlink Kya Hai, Backlink कितने प्रकार की होती है और quality backlink kaise बनाये?  अगर आप भी इन सब चीजों के बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़िए।

backlink क्या है

Backlink एक ऐसा लिंक होता है जिसके द्वारा आप अपनें वेबसाइट की लिंक दूसरे वेबसाइट के पर डाल कर लोगो को अपने वेबसाइट पर पहुंचा सकते है, मुख्य तौर पर इसे ही बैकलिंक कहते हैं या फिर आप अपने वेबसाइट पर किसी और वेबसाइट की लिंक डालते है तो उसे भी बैकलिंक ही कहते है।

आसान भाषा में बताए तो जब भी आप अपनी वेबसाइट के अलावा किसी और वेबसाइट की लिंक अपने वेब पोस्ट y डालते है तो उसे ही Backlink कहते है। आर्टिकल के इस सेक्शन में हम आपको Back link से जुड़े टर्म्स के बारे में विस्तार से बताने का प्रयास करेंगे तो चलिए अब बिना किसी देरी के शुरू करते हैं: 

जूस लिंक (Juice Link)

जूस लिंक वो लिंक होती है जब आपके वेबपेज पर दूसरे वेबसाइट की लिंक आपके वेब पेज के होम पेज या फिर फिर आपके साइट के किसी एक आर्टिकल के अंदर होती है तो उसे ही जूस लिंक कहते है। यह जूस लिंक आपके वेबसाइट के अथॉरिटी को गूगल पर बढ़ाता है साथ ही साथ आपके जूस लिंक आपके पेज की रैंक को बढ़ाने में भी सहायक सिद्ध होता है।

लो क्वालिटी लिंक (Low Quality Link)

लो क्वालिटी लिंक आपके वेबपेज पर किसी पोर्न साइट्स के द्वारा, स्पैम साइट के द्वारा, आ जाती है। ऐसे लो क्वालिटी लिंक आपके साइट के लिए नुकसान पहुंचा सकता है। आपको अपनी साइट के लिए केवल हाई क्वालिटी बैक लिंक का ही इस्तेमाल करना चाहिए वो आपके साइट के लिए फायदेमंद साबित होता है।

क्वालिटी बैकलिंक (Quality Backlink)

जब आप अपने साइट की लिंक किसी ऐसे वेबसाइट पर डालते है जिनकी रिच आपके साइट से बेहतर है और वहा से आपके साइट के ग्रो होने के चांसेस भी काफी बेहतर है तो उन बैकलिंक को ही quality  backline कहा जाता है। क्वालिटी बैकलिंक (quality backline kaise banaye) आपके साइट के ऑथोराइजेशन के लिए बेहतर है

क्योंकि गूगल यह देखता है कि आपके साइट की लिंक आपसे बेहतर वेबसाइट पर लगी हुई है तो आपके साइट के कंटेंट में कुछ तो ऐसी बात होगी जिसके कारण आपके साइट की लिंक कोई और वेबसाइट अपने पेज पर डाल रहा है, इसलिए आपको हाई क्वालिटी बैकलिंक का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। 

इंटरनल बैकलिंक (internal Backlink)

आप अपने साइट पर ट्रैफिक को बढ़ाने के लिए इंटरनल बैकलिंक का भी इस्तेमाल कर सकते है। क्योंकि जब आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में अपनी ही अन्य किसी ब्लॉग पोस्ट की लिंक को डालते है तो इसी ही इंटरनल बैकलिंक कहते हैं। जब आप ऐसा करते है तो आप रीडर को अपने वेबपेज के आस पास ही घेर लेते है आपको उनको और ब्लॉग पोस्ट को पढ़ने के विकल्प देते है ऐसा करना आपके लिए ही फायदेमंद साबित होता हैं। जब आप ऐसा करते है तो काफी हद तक चांसेस होते है कि आपके वेबपेज पर ट्रैफिक काफी हद तक बढ़ जाए।

Backlink कितने प्रकार की होती है

Backlink मुख्य तौर पर केवल दो प्रकार की होती है, जिसके बारे में हमने आर्टिकल के इस सेक्शन में विस्तार से बताने का प्रयास किया है, तो चलिए अब बिना किसी देरी के शुरू करते है।

Do Follow Backlinks

Do Follow Backlinks वो बैकलिंक होते है जिसको समझने के लिए आपको पहले जूस लिंक क्या होता है, उससे समझना होगा, जूस लिंक आपके साइट के लिए पर दूसरे वेबसाइट के लिंक को डालता है अगर आप उस वेबसाइट की लिंक को अपने लिए किसी भी प्रकार का खतरा नहीं मानते है तो आप Do Follow Backlinks का इस्तेमाल कर सकते है। Do Follow Backlinks का इस्तेमाल से आपके साइट पर किसी भी प्रकार का कोई असर नही होता है।

<a href=”bloggingseotips.com”>Link Text</a>

or

<a href=”https://www.bloggingseotips.com/”> Link Text </a>

जब आपके साइट की बैकलिंक किसी और साइट पर होती है और वो वहा से do Follow backlink का इस्तेमाल करते है तो ऐसे में आपके साइट की ट्रैफिक काफी हद तक बढ़ जाती है। और साथ ही साथ आपके साइट की रैंक भी काफी हद तक बढ़ जाती है।

No Follow Backlinks

No Follow Backlinks का इस्तेमाल करके आप अपने साइट के पर आए किसी और अन्य स्पैम साइट के लिंक को बंद कर देते है। साथ ही साथ No follow Backlinks के द्वारा आप अपने साइट पर किसी भी गलत साइट के कंटेंट या दूसरे के द्वारा लिखे हुए कंटेंट को अपने पेज पर प्रमोट नही करना चाहते है तो आप इस No Follow BackLinks का इस्तेमाल करके अपने पेज की रैंक को डाउन करने से बच सकते है।

लेकिन No follow BackLinks का होना भी आपके साइट के लिए जरूरी है क्योंकि जब गूगल यह अनायल्स करता है कि आपके साइट पर केवल do follow BackLinks का इस्तेमाल हुआ है तो गूगल आपके साइट को डिग्रेड भी कर सकता है और हो सकता है आपको पेनाकिटी भी प्रदान करे। इसलिए आपके साइट पर No Follow BackLinks का होना भी जरूरी है।

Backlinks के फायदे क्या क्या है

Backlinks के कई फायदे है उसमे से कुछ नीचे लिखे हुए है,

बैकलिंक से आपके साइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक बढ़ता है। : जब आपके साइट की लिंक किसी अन्य वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट या होम पेज पर रहती है तो ऐसे में आपके वेबपेज पर भी ट्रैफिक बढ़ जाता है क्योंकि लोग आपके साइट पर आना शुरू करते है। इसलिए ऐसा कहा जाता है तो कि अगर आपका वेबसाइट नया है तो आपको अधिक से अधिक बैकलिंक प्राप्त करना चाहिए 

इंडेक्सिंग में फायदा प्राप्त होता है। : जब आपको अन्य किसी वेबसाइट से बैकलिंक प्राप्त होती है तो कभी कभी होता है कि अपने वेबसाइट पर नए कंटेंट इंडेक्स नही होते है तो आपको अन्य किसी वेबसाइट से बैकलिंक प्राप्त करनी होती है ऐसे में आपके वेबसाइट पर पोस्ट इंडेक्स होने लगते है।

Backlinks क्यों जरूरी है :

अगर आपकी वेबसाइट नई है और उसमें इतना ट्रैफिक प्राप्त नहीं होता है तो आपके लिए बैकलिंक बेहद जरूरी है। बैकलिंक होने से आपके पोस्ट को गूगल द्वारा ऑथोराइजेशन प्राप्त होता है साथ ही साथ आपके पेज पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक भी बढ़ जाता है जिससे आपके पेज की कमाई भी बढ़ जाती है। साथ ही साथ आपके पेज पर रेफरल ट्रैफिक भी बढ़ जाता है। साथ ही साथ बैकलिंक प्राप्त करने से आपके पेज की इंडेक्सिंग की समस्या भी कम हो जाती है।

Quality backlink कैसे बनाए

quality backline kaise banaye? क्वालिटी बैकलिंक बनाने के लिए आपको नीचे बताए गए तरीके को फॉलो करना चाहिए। जिसके बारे में हमने आर्टिकल के इस सेक्शन में विस्तार से बताया हुआ है,

क्वॉलिटी कंटेंट 

अगर आप अपने पेज का बैकलिंक किसी अन्य वेबपेज पर डालना चाहते है सबसे पहले आपको अपने वेबपेज के कंटेंट पर ध्यान देना होगा। अगर आपके वेबपेज का कंटेंट अच्छा नही होगा तो कोई भी वेबसाइट ऑनर आपको बैकलिंक देने के लिए राज़ी नहीं होगा। इसलिए हम आपको यही सजेस्ट करेंगे कि किसी अन्य वेबसाइट से बैकलिंक मांगने से पहले आपको अपने वेबसाइट के कंटेंट को बेहतर करना होगा।

गेस्ट राइटिंग 

अगर आपको अन्य किसी वेबसाइट से बैक लिंक प्राप्त करनी है तो आपको सबसे पहले उस वेबसाइट के ऑनर से कॉन्टैक्ट करना होगा। जिसके बाद आप उनको बैकलिंक का ऑफर देंगें। अगर आप उनको यह कहेंगे कि आप उनके वेबपेज के लिए गेस्ट पोस्ट लिखना चाहते है तो लगभग सभी वेबसाइट ऑनर आपको बैकलिंक देने के लिए राजी हो जाएंगे।

लेकिन गेस्ट पोस्ट को आपको अपने वेबपेज के कंटेंट के तरह ही लिखना चाहिए क्योंकि अगर आप उनके ब्लॉग पोस्ट की क्वालिटी को गिरा देंगे तो वो चीज उनके वेबपेज के लिए अच्छी बात नहीं हैं। इसलिए अगर आपको बैक लिंक प्राप्त करने है तो आपको अन्य वेबपेज के लिए गेस्ट पोस्ट लिखनी होगी।

कॉमेंट करना शुरू करे

अगर आप बड़े बड़े वेबसाइट से बैकलिंक (backline kaise banaye) प्राप्त करना चाहते है तो आपको उनको ब्लॉग पोस्ट के नीचे कमेंट करना शुरू कर देना चाहिए। जब आप ऐसा करते है तो आपको अपने वेबपेज का लिंक भी साथ में अटैच करना चाहिए। ऐसा करने से आप उन वेबसाइट के ऑनर की नजर में आ सकते है। जिसके बाद हो सकता है कि आपको उनके वेबसाइट के द्वारा बैकलिंक भी प्राप्त हो जाए। इसलिए हम आपको यही सजेस्ट करेंगे कि आपको अपने वेबपेज के niche से जुड़े बड़े वेबसाइट के ब्लॉग पोस्ट पर कमेंट करना चाहिए।

निष्कर्ष:

आज हमने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बैकलिंक (backline kaise banaye) से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी प्रदान करने की कोशिश की है। उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। साथ ही साथ अगर आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई सवाल आता है तो आप हमसे नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में सवाल पूछ सकते हैं। साथ ही साथ अगर आपको यह आर्टिकल सहायक लगता है तो आप इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे।

इन्हें भी पड़े :

Leave a Comment

Niche क्या है: एक सही Niche का चुनाव कैसे करें Schema Markup क्या है- इसका SEO पर क्या प्रभाव पड़ता है Google Web Stories को Google Discover में कैसे लाये Backlink क्या है Backlink के प्रकार एवं फायदे क्या है जानिए Event Blogging क्या है, Event Blogging करके पैसे कैसे कमाए भारत के टॉप 10 हिंदी ब्लॉगर कौन कौन है 2023 नए ब्लॉगर के लिए 10 बेस्ट माइक्रो ब्लॉग टॉपिक आईडिया 2023 2023 के Top 11 Best Affiliate Marketing Program कौनसे है 2023 में कंटेंट राइटिंग कैसे करें { top 10 Tips } बेस्ट फ्री कीवर्ड रिसर्च टूल 2023
Niche क्या है: एक सही Niche का चुनाव कैसे करें Schema Markup क्या है- इसका SEO पर क्या प्रभाव पड़ता है Google Web Stories को Google Discover में कैसे लाये Backlink क्या है Backlink के प्रकार एवं फायदे क्या है जानिए Event Blogging क्या है, Event Blogging करके पैसे कैसे कमाए भारत के टॉप 10 हिंदी ब्लॉगर कौन कौन है 2023 नए ब्लॉगर के लिए 10 बेस्ट माइक्रो ब्लॉग टॉपिक आईडिया 2023 2023 के Top 11 Best Affiliate Marketing Program कौनसे है 2023 में कंटेंट राइटिंग कैसे करें { top 10 Tips } बेस्ट फ्री कीवर्ड रिसर्च टूल 2023